By : Abhishek Mishra   |   26-09-2018    |    Views : 0005522



IIT के लापता 50 छात्रों का वायुसेना ने किया रेस्क्यू


हिमाचल प्रदेश में बारिश और बर्फबारी लोगों के लिए मुसीबत बन गई है. यहां रेस्क्यू काम तेजी से चल रहा है. लाहौल घाटी में चढ़ाई पर गए आईआईटी रुड़की के लापता हुए 50 छात्रों को भी वायुसेना ने हेलीकॉप्टर रेस्क्यू कर लिया गया है. वहीं, लाहौल स्पीति में फंसे लोगों को रोहतांग टनल से भी कुल्लू लाया जा रहा है. मंगलवार को लाहौल में फंसे 150 लोगों को रोहतांग टनल से मनाली पहुंचाया गया है. बीआरओ के अधिकारियों ने 30-30 की शिफ्ट में बसों से लोगों को रोहतांग टनल से पार करवाया गया. बीआरओ के कमांडर कर्नल एके अवस्थी ने बताया कि रोहतांग टनल से भी 150 लोगो को मनाली पहुंचाया गया है. वहीं, वायुसेना के हेलीकॉप्टर द्वारा भी लाहौल से 5 लोगो को भुंतर हवाई अड्डा पहुंचाया गया है. अचानक हुई बारिश के कारण शिमला के कोटिहाई तहसील के कियारा बस स्टैंड पर कई गाड़ियां बह गई. आज भी लाहौल में बचाव कार्य जारी रहेगा. हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी कुल्लू और लाहौल स्पिति में हुई तबाही का हवाई जायजा लिया. ठाकुर ने मीडिया से कहा कि शनिवार को शुरू हुई बारिश की वजह से राज्य को 1,200 करोड़ रूपये का नुकसान हुआ है. बचाव कार्य तेजी से चल रहा है. अधिकारियों ने कहा कि दिल्ली और हिमाचल प्रदेश के छह ट्रैकरों का एक दल किन्नौर जिले से लापता है. लगातार बारिश की वजह से अचानक आई बाढ़ और भू-स्खलन से पहाड़ी राज्यों जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और हरियाणा में सोमवार को कम से कम 11 लोगों की मौत हो गई. पंजाब और उत्तराखंड में भी बारिश हुई है.