By : Abhishek Mishra   |   26-09-2018    |    Views : 0005583



प्रमोशन में आरक्षण सही या गलत? आज संविधान पीठ सुना सकती है फैसला


SC/ST कर्मचारियों को सरकारी नौकरियों में प्रमोशन में आरक्षण देने के मामले में सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ बुधवार को फैसला सुनाएगी. देश के प्रमुख न्यायाधीश दीपक मिश्रा, जस्टिस कुरियन जोसेफ, जस्टिस आरएफ नरीमन, जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस इंदू मल्होत्रा की अध्यक्षता वाली संविधान पीठ बुधवार को इस बात का फैसला करेगी कि 12 साल पुराने एम नागराज मामले में कोर्ट के फैसले में पुर्नविचार की जरूरत है या नहीं.इस फैसले मे कहा गया था कि एससी-एसटी को प्रोमोशन में रिजर्वेशन देने के लिए सरकार को उनके पिछड़ेपन और पर्याप्त प्रतिनिधित्व न होने के आंकड़े जुटाने होंगे. दरअसल, इससे पहले पक्षकारों के वकील शांति भूषण ने नागराज के फैसले पर पुनर्विचार को लेकर केंद्र सरकार की याचिका का विरोध किया था. भूषण ने कहा था कि यह वोट बैंक की राजनीति है और इस मुद्दे को राजनीतिक बनाने के लिए किया जा रहा है. उन्होंने कहा था कि पदोन्नति में कोटा अनुच्छेद 16 (4) के तहत संरक्षित नहीं है, जहां ‘क्रीमी लेयर’ की अवधारणा आ जाएगी.