By : Abhishek mishra   |   10-09-2018    |    Views : 000205



राजघाट पहुंचे राहुल गांधी, सरकार के खिलाफ देंगे धरना


देश में लगातार बढ़ रही पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर सरकार को घेरने के लिए कांग्रेस ने आज यानी सोमवार को भारत बंद का आह्वान किया है. कांग्रेेेस के अनुसार उसे 21 विपक्षी पार्टियों का भी समर्थन मिला है. ये विपक्षी पार्टियां एकजुट होकर देश में पेट्रोल-डीजल और गैस की कीमतों में बढ़ोतरी के विरोध में प्रदर्शन करेंगी. दिल्‍ली स्थित राजघाट पर कांग्रेस की पूर्व अध्‍यक्ष सोनिया गांधी समेत अन्‍य विपक्षी पार्टियों के प्रमुख नेता विरोध-प्रदर्शन करेंगे. राजघाट पर यह प्रदर्शन सुबह 9 बजे शुरू होगा. भारत बंद को लेकर कांग्रेसी नेताओं ने अपने कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वे शांतिपूर्वक प्रदर्शन करें और किसी तरह के हिंसक प्रदर्शन में शामिल न हों.ओडिशा के संभलपुर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने एक ट्रेन रोककर पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों पर विरोध जताया. वहीं माकपा कार्यकर्ताओं ने विशाखापत्‍तनम में भी बढ़े दामों के खिलाफ प्रदर्शन किया. तेलंगाना में भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विरोध-प्रदर्शन शुरू कर दिया है.कांग्रेस की तरफ से कहा गया है कि इस प्रदर्शन में 21 विपक्षी पार्टियां समर्थन कर रही हैं. तृणमूल कांग्रेस (TMC) की तरफ से बयान जारी कर कहा गया कि उनकी पार्टी बंद का समर्थन करती है, लेकिन मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राज्य में बंद की इजाजत नहीं दे सकतीं. एनसीपी प्रमुख शरद पवार, द्रमुक प्रमुख एमके स्टालिन और वामपंथी नेताओं ने कांग्रेस की ओर से बुलाए गए ‘भारत बंद’ का खुला समर्थन किया है.