By : Abhishek mishra   |   30-08-2018    |    Views : 000313



कृष्ण जन्माष्टमी की सही तारीख यहां जानें, इस दिन रखें व्रत


श्रीकृष्ण जन्माष्टमी (Krishna Janmashtami) हर साल पूरे देश में धूमधाम से मनाई जाती है. भगवान श्रीहरि विष्णु के सर्वकलामयि अवतार श्रीकृष्ण की जयंती आने वाली है. यशोदा-नन्द के लाला और देवकी-वसुदेव के पुत्र कन्हैया का जन्म रोहिणी नक्षत्र में भाद्रपद माह की अष्टमी तिथि को मध्य रात्रि वृष लग्न में हुआ था. यह संयोग इस बार 2 सितंबर को बन रहा है. इस दिन कृष्णोपासक दिनभर व्रत रखकर रात्रि में श्रीकृष्ण जन्मोत्सव मनाते हैं. धर्मोपदेशक, रक्षक और संस्थापक द्वारकाधीश वासुदेव नन्दलाला बांकेबिहारी के जीवन का हररूप मोहक और प्रेरक है. कंस से दुराचारी के षड्यंत्रों से बचने से लेकर धर्मयुद्ध कुरुक्षेत्र में गीता का पाठ पढ़ाने वाले मुरलीधर की लीलाओं से विश्व सदैव लाभांवित होता आया है. चिरकाल तक होता रहेगा.