By : Abhishek Mishra   |   22-11-2018    |    Views : 00045



जम्मू-कश्मीर विधानसभा भंग:...तो कांग्रेस, एनसीपी, पीडीपी का प्लान रहा सफल


जम्मू-कश्मीर में कांग्रेस, पीडीपी और एनसी का सरकार बनाने का दावा पेश करने के पीछे कोई योजना थी? अगर जानकारों की माने तो यह तीनों दलों द्वारा सूबे की विधानसभा भंग कराने का 'प्लान' था। दरअसल, पीडीपी ने जैसे ही राज्यपाल सत्यपाल मलिक के पास राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश किया उसके कुछ घंटे बाद ही राज्यपाल ने विधानसभा ही भंग कर दी। पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती द्वारा गवर्नर को लेटर लिखकर समय लेने के बाद से ही खबरों और टीवी रिपोर्ट्स में इस तरह के दावे किए जा रहे थे कि गैर-बीजेपी मोर्चा सरकार बनाने जा रहा है। इसके बाद एकाएक राज्य में राजनीतिक घटनाक्रम तेजी से बदलने लगे और अंत में राज्यपाल से विधानसभा भंग कर दी। सूत्रों का कहना है कि तीनों पार्टियों द्वारा साथ आना सरकार बनाने की कोशिश कम और राज्यपाल तथा बीजेपी पर दबाव बनाने की कोशिश ज्यादा था।